Ravindra Jain is on Facebook.
To connect with Ravindra, sign up for Facebook today.
Work
Education
About Ravindra
  • EDITOR
    RAJ EXPRESS
    MADHYAPRADESH
    BHOPAL

    रवीन्द्र जैन
    कला में स्नातक एवं पत्रकारिता में स्नाकोत्तर
    --------------------------------------------------------------------------------

    रवीन्द्र जैन मघ्यप्रदेष के जानेमाने पत्रकार हैं। 1984 में ग्वालियर से पत्रकारिता प्रारंभ की। 1988 में भोपाल पहुचे दैनिक स्वदेश होते हुए दैनिक भास्कर में उन्होंने खोजी पत्रकार के रूप में अपनी अलग पहचान बनाई है।

    1992 में कुछ माह के लिए वे दैनिक देषबंधु में राजनीतिक संवाददाता के रूप में कार्य किया।

    1993 से 2005 तक मप्र में इलेकटानिक पत्रकारिता से जुडे। दूरदर्षन भोपाल के न्यूज स्टिन्गर रहे। इस दौरान दो सौ से अधिक टेली फिल्मों का निर्माण किया। इसरो के एज्युकेषन प्रोग्राम के पैनल में षामिल किए गए।

    1996 में भारत के एक प्रतिनिधि मंडल के साथ मोरिषस की यात्रा की।

    1996 में ही जैनसंत परमपूज्य आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज के दर्षन करने के बाद जैन समाज की गतिविधियों से जुडे। भोपाल में जैन मंदिर एवं प्रदेष की पहली एयरकंडीषन जैन धर्मषाला का निर्माण उनकी देखरेख में किया गया। आचार्यश्री के आषीर्वाद से पत्रकारिता में निरंतर अग्रसर।

    1999 में कारगिल युद्ध पर सबसे पहले कारगिल दस्तावेज के नाम से पुस्तक लिखी। पंडित माखनलाल पत्रकारिता विष्वविद्यालय ने इस पुस्तक को रक्षा पत्रकारिता के सिलेबस में शामिल किया है।

    2001 में कुडलपुर का सच नामक पुस्तक का लेखन।

    जनवरी 2005 से राज एक्सप्रेस परिवार से लगातार जुडे हैं। राज एक्सप्रेस के सीएमडी श्री अरूण सहलोत के मार्गदर्षन में स्पेषल संवाददाता के बाद ग्वालियर में स्थानीय संपादक बनाए गए। सीएमडी के आदेष पर इंदौर व जबलपुर में भी कुछ दिनों तक स्थानीय संपादक का दायित्व संभाला।

    2008 में लगभग तीन माह भोपाल के पीपुल्स मीडिया संस्थान में पढाया।

    1 जनवरी 2010 को सबकी खबर डाट काम के नाम से न्यूज बेवसाईट प्रारंभ की।
Favorite Quotes
  • me kaon hu